Digital Marketing से कैसे बढाएं अपना Business?

  • by Staff@ TSD Network
  • January 17, 2020
digital-marketing-kya-h

आज के समय में सोशल मीडिया (Social Media) और गूगल (Google) जैसे सर्च इंजनों की लोकप्रियता तेजी से बढ़ रही है। और इसी के चलते अब लगभग सभी बिज़नेस (Business) खुद के प्रचार प्रसार के लिए इसका जोर शोर से इस्तेमाल करने लगे हैं।

फेसबुक (Facebook), इंस्टाग्राम (Instagram), ट्विटर (Twitter), WhatsApp, TikTok जैसे बड़े सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म भारी संख्या में उपयोगकर्ताओं को समेटे हुए हैं। न सिर्फ़ युवा बल्कि अब लगभग हर उम्र का एक बहुत बड़ा वर्ग इन सभी प्लेटफ़ॉर्मो का इस्तेमाल कर रहा है।

Brands को इंटरनेट में उतरने की क्यों पड़ी जरूरत?

एक सर्वे के मुताबिक 2019 में दुनिया की कुल आबादी क़रीब 7.7 बिलियन थी, जिसमें से लगभग 5.1 बिलियन लोग मोबाइल फ़ोन का इस्तेमाल करते हैं। इनमें से करीब 4.3 बिलियन लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं। जिसमें से लगभग 3.4 बिलियन लोग एक्टिव रूप से सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म जैसे Facebook, WhatsApp, Instagram, Twitter इत्यादि का इस्तेमाल करते हैं।

वहीँ भारत के आँकड़ो की बात करें तो भारत में साल 2019 तक लगभग 530 मिलियन लोग इंटरनेट का उपयोग करते पाए गए। साथ ही उम्मीद के मुताबिक 2020 तक यह आँकड़ा 570 मिलियन से अधिक हो सकता है।

internet-users-stats-in-india

भारत में इंटरनेट उपयोगकर्ता संबंधी सालाना आँकड़े (मिलियन में)

दरसल आज के दौर में जब सरकारी सेवाओं (Government Services) से लेकर शिक्षा (Education), ऑनलाइन शॉपिंग (Online Shopping), टिकट बुकिंग (Ticket Booking), रिचार्ज (Recharges), बिल पेमेंट (Bill Payments), ऑनलाइन ट्रांसक्शन्स (Online Transactions) सब कुछ लगभग ऑनलाइन हो गया है, तो ऐसे में इंटरनेट का इतना भारी उपयोग स्वाभाविक ही नज़र आता है। और इसके लिए हमें सस्ते स्मार्टफोन डिवाइसों (Smartphone Devices) और लैपटॉप (Laptops) के साथ ही साथ सस्ते डेटा प्लान (Data Plan) को भी क्रेडिट देना चाहिए।

क्या हैं डिजिटल मार्केटिंग [What is Digital Marketing in Hindi]?

जैसा कि हमनें देखा जब इंटरनेट में भारत ही नहीं दुनियाभर के लगभग आधे से अधिक लोग मौजूद हैं, तो ऐसे में लाजमी हैं कि कंपनियां, ब्रांड्स सभी अपने अपने बिज़नेस को इंटरनेट उपयोगकर्ताओं के बीच लाकर नाम कमाना चाहती है।

digital-marketing-kya-h-kaise-kare-online-marketing

 

साथ ही कुछ मार्केटिंग आँकड़ो (Market Stats) को देखे तो लगभग 80% उपभोगता (Shoppers) कोई भी प्रोडक्ट (Product) या सर्विस (Service) ख़रीदने से पहले उसके बारे में ऑनलाइन सर्च (Online Search) करते हैं।

और शायद इसलिए कंपनियों  या बिज़नेस के लिए डिजिटल रूप से अपनी मौजूदगी दर्ज करवाना और डिजिटल तौर पर अपनी एक अच्छी ब्रांड इमेज बनाना जरूरी हो जाता है। और बिज़नेस व ब्रांड्स द्वारा किये जाने वाले इसी डिजिटल प्रचार को ‘डिजिटल मार्केटिंग (Digital Marketing)‘ कहा जाता है।

डिजिटल मार्केटिंग के क्या हैं लाभ? [Importance of Digital Marketing in Hindi]

social-media-marketing

आज के समय अधिकतर लोग ऑनलाइन प्रोडक्ट और सर्विस खरीदना अधिक पसंद करते हैं। दरसल यह उन्हें बाज़ार जाकर एक-एक करके सामान ख़रीदने से कहीं अधिक आसान लगता है। और इतनी मांग के चलते ऑनलाइन कई ऑफर्स (Offers) और डिस्काउंट (Discount) भी मिल जाती है।

ऐसे में अगर कंपनी या बिज़नेस ऑनलाइन भी अपनी मौजूदगी बनाये रखते हैं तो ऐसे में उन्हें एक बड़ा और अपडेटेड उपयोगकर्ता आधार हासिल करने में काफी मदद मिलती है। और यहाँ वह आसानी से बिना मोलभाव के अपना प्रोडक्ट/सर्विस बेच पाते हैं।

इसके साथ ही उपभोगताओं (Consumers) को भी सिर्फ़ ब्रांड की बातों पर भरोसा करने के अलावा अन्य लोगों का भी फीडबैक (Feedback) मिल पाता है जिससे उन्हें सही-सही पता लग पाता है कि क्या वाकई कंपनियों या ब्रांड के प्रोडक्ट उनके लिए सही हैं भी या नहीं?

वहीँ ब्रांड/कंपनी के नजरिये से बात करें तो डिजिटल मार्केटिंग के जरिये उन्हें निम्निलिखित फ़ायदे मिलते हैं;

1. अधिक लोगों तक आसन पहुँच (Increase Visibility)

कंपनी को ऑनलाइन अपने Product Broucher के साथ ही साथ लोगों के बीच अपने ब्रांड के नाम को फ़ैलाने का मौका मिलता है। जिससे ऑफलाइन स्तर में भी उन्हें मदद मिलती है। इसके साथ ही ऑनलाइन लोकप्रियता कमाने की वजह से उनकी ब्रांड वैल्यूएशन (Brand Valuation) भी बढ़ती है।

2. ऑनलाइन लीड जनरेशन (Online Lead Generation)

साथ ही इन कंपनियों को ऑनलाइन दुनिया में ऑफलाइन पारंपरिक तरीकों से परे नए ग्राहक जोड़ने का भी मौका मिलता है। कंपनियां चुनिंदा रूप से ऑनलाइन ऐसे लोगों को भी टारगेट करती हैं, जो उनके संभावित ग्राहक बन सके। ऐसे ही लोगों को टारगेट कर उनकी कांटेक्ट जानकारियां हासिल करना ही लीड जनरेशन (Lead Generation) कहलाता है।

3. कंज्यूमर एनालिटिक्स डेटा (Consumer Analytics Data)

डिजिटल मार्केटिंग क्षेत्र में Data Analytics अहम रोल निभाता है। इससे आप यह तय कर सकतें हैं कि क्या वाकई आपको डिजिटल मार्केटिंग से अपने बिज़नेस को बढ़ाने में मदद मिल रही है? क्या आप अपनी सही टारगेट ऑडियंस तक पहुँच पा रहें हैं? आपके ब्रांड पेज या वेबसाइट में आने वाले लोग क्या आपको ROI (Return of Interest) दे पा रहें हैं? लोग आपके कौन से प्रोडक्ट को पसंद कर रहें हैं और कौन से प्रोडक्ट्स को नहीं?

यह सभी जानकारियां आप अपने सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म के Insight टैब पर जाकर या वेबसाइट के केस में Google Analytics जैसे टूल्स का उपयोग कर हासिल कर सकतें हैं।

4. विज्ञापन के जरिये और अधिक पहुँच (Online Paid Boosting) 

आप आर्गेनिक (Organic Reach) के साथ ही साथ सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म या अपनी वेबसाइट को पेड बूस्ट (Paid Boost) के जरिये अपनी टार्गेटेड ऑडियंस तक पहुँचा सकतें हैं, भले उन्होंने आपके ब्रांड पेज या वेबसाइट के बारे में कभी न सुना हो! यह एक बहुत ही कारगर फीचर है, जिसका हर बड़ी से बड़ी और छोटी से छोटी कंपनियां इस्तेमाल करती हैं।

डिजिटल मार्केटिंग के मुख्य एलिमेंट्स [Main Elements of Digital Marketing]

digital-marketing-online-marketing-business-seo-social-media

1. पेज और वेबसाइट (Brand Page & Website)

किसी भी सोशल मीडिया या इंटरनेट पर कंपनी/ब्रांड की डिजिटल मार्केटिंग के लिए सबसे जरूरी होता है, उस प्लेटफ़ॉर्म पर कंपनी का ब्रांड पेज या फ़िर वेबसाइट।

उदाहरण के लिए जसी Facebook Page, Instagram प्रोफाइल, WhatsApp for Business या फ़िर कोई .com या .in वेबसाइट।

2. कंटेंट पोस्टिंग (Content Posting)

बिना रेगुलर कंटेंट पोस्टिंग के आपके ब्रांड पेज के सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर होने या फ़िर वेबसाइट के होने का कोई फायदा नहीं है। दरसल कंटेंट से हमारा मतलब ब्लॉग (Blog), सोशल मीडिया ग्राफ़िक्स (Social Media Graphics), विडियो (विडियो), टेस्टीमोनियल (Testimonial), इन्फोग्राफ़िक्स (Infographics) इत्यादि से है। कंपनियां अपने प्रोडक्ट या सर्विस का इन्हीं तरीकों के कंटेंट का इस्तेमाल कर प्रचार करती हैं। इससे आपके Page या Website पर ट्रैफिक अर्थात् विसिटर्स बने रहतें हैं और आपके लिए बिक्री की संभवानाएं भी बढ़ जाती हैं।

3. सर्च इंजन ऑप्टिमाईजेशन (Search Engine Optimization, SEO) 

SEO का मलतब है अपनी कंपनी की वेबसाइट को कुछ इस प्रकार से ऑप्टिमाइज़ (Optimize) करना कि Google जैसे सर्च इंजन पर अनजान लोगों द्वारा भी उस कंपनी से जुड़े कुछ शब्द (Keywords) डालने पर सर्च इंजन रिजल्ट के तौर पर सबसे पहले उसी कंपनी की वेबसाइट को पेश करे। इसका मुख्य मकसद कंपनी की वेबसाइट पर Organic Traffic लाने का होता है।

4. कंटेंट मार्केटिंग (Content Marketing)

कंपनी के द्वारा बनाये गये कंटेंट को Brand Awareness, Lead Generation या फ़िर Product Information के लिहाज़ से सोशल मीडिया या वेबसाइट के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों तक पहुँचाने का प्रयास करने की प्रक्रिया को ही Content Marketing कहतें हैं।

5. इनबाउंड मार्केटिंग (Inbound Marketing)

Inbound Marketing का सीधा मलतब होता है, वह प्रक्रिया जिसके जरिये कंपनियां अपने Content के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा ग्राहकों को Attract करके, उन्हें Convert करने और अपने बिज़नेस को बढ़ाने के प्रयास करती हैं।

6. सोशल मीडिया मार्केटिंग (Social Media Marketing)

इस तरीके में Brands अपने Content को भिन्न-भिन्न Social Media Platforms पर प्रमोट करते हैं। ताकि यह जरिया भी कंपनियों को उनके लिए Traffic, Leads और Brand Awareness प्रदान कर सके।

7. पे-पर-क्लिक (Pay-Per-Click)

इस जरिये को आप Paid Boosting के तरीकों में गिन सकतें हैं। इसमें कंपनी जिस भी प्लेटफ़ॉर्म पर अपने कंटेंट को प्रमोट करना चाहती हैं, उस Publisher को वह पैसे देती हैं और वह Publisher कंपनियों को उनकी Ads पर हर एक क्लिक के लिए चार्ज करती हैं।

8. Native Advertising

इस जरिये में कंपनियां बड़े बड़े प्लेटफ़ॉर्म पर अपने Sponsored Posts के जरिये अपनी Brand Awareness बढ़ाने का प्रयास करती हैं। इसमें ScoopWhoop, BuzzFeed और The Social Digital जैसे प्लेटफ़ॉर्मों पर कंपनियां अपने Post डलवाने के लिए उन्हें पैसे देती हैं और उसके एवज में यह प्लेटफ़ॉर्म उनके लिए एक रोचक कंटेंट तैयार कर अपनी ऑडियंस के बीच उनका प्रचार करते हैं।

9. ई-मेल मार्केटिंग (Email Marketing)

ई-मेल मार्केटिंग डिजिटल क्षेत्र में मार्केटिंग का पुराना लेकिन अभी भी सटीक तौर पर काम करने वाला एक विकल्प हैं। इसमें कंपनियां अपने ऑफिसियल Mail के जरिये आकर्षक Newsletter बनाकर लोगों के Mails पर उन्हें अपनी कंपनी के Product, Offers, Events और प्रमोशन की जानकरियां देती हैं।

10. Online PR

ऑनलाइन PR का मलतब होता है आप किसी बड़े मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर अपने काम या अपनी कंपनी के किसी विशेष कदम के चलते फीचर किये जाये। आपको ऐसे कई Free PR Portals भी मिल जायेंगें जहाँ आप अपनी PR Publish करवा सकतें हैं।

जरुरी और फायदेमंद हैं डिजिटल मार्केटिंग [Digital Marketing kya hai]

हमनें देखा कि कैसे आप सिर्फ़ कुछ बातों का ध्यान रखते हुए अपने बिज़नेस को डिजिटल माध्यम में Digital Marketing के इस्तेमाल से फैला सकतें हैं और इसके जरिये न सिर्फ़ ब्रांड का नाम बल्कि प्रोडक्ट्स या सर्विस की बिक्री करके पैसे भी कमा सकतें हैं।

इसके साथ ही Digital Marketing के और भी गुर सीखने या अपने बिज़नेस को इंटरनेट में फ़ैलाने के लिए हमें कांटेक्ट करें

“अब डिजिटल तरीके से नाम भी नहीं बिक्री भी बढ़ेगी”

Facebook Comments
Staff@ TSD Network

Our hard-working staff writing team | You can reach us at 'contact@tsdnetwork.com'
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram