financial-relief-from-modi-govt-amid-coronavirus

कोरोना वायरस: जानिये भारत सरकार किन-किन को और कैसे दे रहीं है वित्तीय मदद?

  • by Team TSD
  • March 28, 2020

एक ओर जहां कोरोना वायरस (COVID-19) नामक इस महामारी ने लोगों को घरों में बंद रहने पर मजबूर कर दिया है, वहीँ स्वाभाविक तौर पर मौजूदा हालातों में दुनिया भर की अर्थव्यवस्था की कमर भी टूट गयी है।

और इससे भारत भी अछूता नहीं रह सकता है। हालाँकि अर्थव्यवस्था की इस चुनौती से निटपने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत में इकॉनोमिक टास्क फ़ोर्स का भी गठन किया है, जिसका नेतृत्व वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण कर रही हैं।

इस बीच कई ऐसे राहत पैकेज और नीतियों में बदलाव भी किये जा रहें हैं, जिससे लोगों और व्यापारियों को इस आर्थिक संकट में थोड़ी राहत दी जा सके।

इस बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा की गयी कुछ अहम आर्थिक घोषणाएँ कुछ इस प्रकार हैं;

1. आईटी रिटर्न की तारीख बढ़ी: 

वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए, इनकम टैक्स रिटर्न की अंतिम तिथि 30 जून, 2020 तक बढ़ा दी गई है।  30 जून तक किए गए भुगतान में देरी के लिए, ब्याज दर 12% से 9% तक कम कर दी गयी है। साथ ही TDS को देर से जमा करने पर भी अब 18% के बजाये 9% की ही ब्याज दर देय होगी। साथ ही साथ आधार-पैन को लिंक करने की अंतिम तिथि 31 मार्च से बढ़ाकर 30 जून कर दी गई है। साथ ही सर्कार कि विवाद से विश्वास (Vivaad se Vishwaas) योजना को 30 जून तक बढ़ा दिया गया है और 10% का अतिरिक्त शुल्क माफ कर दिया गया।

2. ATM से कैश निकासी चार्ज हटा: 

आपको बता दें जिन ग्राहकों को तत्काल नकद (कैश) की जरूरत है और साथ ही वह बैंक शाखाओं में भीड़ न लगाये, इसलिए अब किसी भी एटीएम से नकद निकालने पर अगले तीन महीनों के लिए कोई चार्ज नहीं लगेगा। इसके साथ ही आपको बैंक में कोई न्यूनतम बैलेंस बनाये रखने की भी आवश्यकता नहीं है। वहीँ व्यापार लेनदेन के लिए डिजिटल शुल्क को भी कम कर दिया गया है।

3. जीएसटी (GST) रीटर्न की तारीख बढ़ी:

सरकार ने मार्च, अप्रैल, मई और कंपोजीशन रिटर्न के लिए सभी जीएसटी (GST) रिटर्न की डेडलाइन 30 जून, 2020 तक बढ़ा दी है। इसके साथ ही जहाँ 5 करोड़ से कम रिटर्न पर कोई विलंब शुल्क और जुर्माना नहीं लगेगा वहीँ  5 करोड़ रुपये से ऊपर के रिटर्न पर सिर्फ 9% की ब्याज दर देय होगी।

4. कस्टम (सीमा) शुल्क:

सर्कार ने कस्टम अनुमति के लिए विभागों को 30 जून तक 24×7 काम करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही इनडायरेक्ट टैक्स के लिए ‘सबका विश्वास योजना’ की अंतिम तिथि बढ़ाकर 30 जून, 2020 कर दी गई है।

5. कंपनियों के लिए:

1 अप्रैल से 30 सितंबर तक कंपनियों को फाइलिंग के लिए बाध्य नहीं किया जायेगा और न ही देरी के लिए उनसे कोई अतरिक्त शुल्क लिया जायेगा। इसके साथ ही कंपनियों की अनिवार्य बोर्ड बैठकों के लिए भी 60 दिनों की ढील दी गई है।

6. कोरोना वायरस से प्रभावित अर्थव्यवस्था और गरीब तबके पर इसके आर्थिक प्रभावों को कम करने की दिशा में केंद्र सरकार ने 1.70 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान किया है।

7. निर्मला सीतारमण ने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत किसी गरीब को भूखा नहीं रहने दिया जाएगा। अभी 80 करोड़ लाभार्थियों को हर महीने 5 किलो गेहूं या चावल प्रति व्यक्ति मुफ्त मिलता रहा है। अगले तीन महीने तक इन्हें अतिरिक्त 5 किलो प्रति व्यक्ति गेहूं या चाव दिया जाएगा।

8. इसके साथ ही किसानों को सालाना 6 हजार रुपये की पीएम किसान सम्मान निधि के तहत इसकी पहली किस्त अप्रैल के पहले हफ्ते किसानों को दे दी जायेगी। जिसके चलते 8.69 करोड़ किसानों को इसका फायदा मिलेगा।

9. मीण इलाकों में मनरेगा के तहत दिहाड़ी 182 रुपये से बढ़ाकर 202 रुपये कर दी गई है। जिससे 5 करोड़ मजदूरों को फायदा मिलने की बात कही जा रही है।

10. गरीब, विधवा और दिव्यांगों को भी एक-एक हजार रूपये देने की बात कही गयी है, जो डीबीटी के जरिए उनके खातों में जाएगा। साथ ही जनधन खाताधारक महिलाओं को 1500 रुपये की मदद भी दी जायेगी, जो 500 रुपये प्रति महीने अगले तीन महीनों तक मिलेगी।

11. उज्ज्वला योजना के तहत गरीब महिलाओं को तीन महीने तक मुफ्त सिलेंडर दिया जाएगा। महिलाओं के स्वंय सेवा समूह को 10 लाख रुपये तक गारंटी के बिना लोन मिलता था, जिसे अब बढ़ाकर 20 लाख रुपये कर दिया गया है।

12. संगठित क्षेत्र के कर्मचारियों के इपीएफ की 24% रकम अगले 3 महीने तक सरकार ही देगी। साथ ही अभी कर्मचारी आकस्मिक निधि से 75 फीसदी तक फंड या तीन महीने के वेतन के बराबर जो भी कम है, निकाल सकते हैं।

13. केंद्र सरकार ने साढ़े तीन करोड़ रजिस्टर्ड मजदूरों की मदद के लिए राज्य सरकारों को निर्देशित किया है कहा गया है। साथ ही राज्य सरकारों को डिस्ट्रिक मिनरल फंड का उपयोग स्वास्थ्य जांच, उपचार और दवाओं के लिए करने को कहा गया है।

हमारी इस कवरेज को अधिक से अधिक शेयर करें ताकि समाज के हर तबके जो किसी भी माध्यम से इंटरनेट का इस्तेमाल कर रहा है, उन तक प्रमाणिक जानकरियों को पहुँचाया जा सके! इस मुश्किल घड़ी में आपका एक शेयर भी किसी के लिए मददगार साबित हो सकता है। 


जरूरी सूचना: कोरोना वायरस (COVID-19) के भारत में असर से जुड़ी सभी अधिकारिक और सत्यापित ख़बरों के लिए The Social Digital ने COVID-19 Impact नाम से फुल कवरेज़ की शुरुआत की है, ताकि आप तक सटीक और सभी जरूरी जानकारी पहुँचायीं जा सकें, कोरोना वायरस से जुड़े सरकार और कारोबार जगत की हर अपडेट के लिए अभी पढ़े…यहाँ क्लिक करें!

Facebook Comments
Team TSD

A hard-working team, full of creativity, innovation, and knowledge of digital media. | You can reach us at thesocialdigital@gmail.com
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram
Don`t copy text!