May 30, 2020
  • facebook
  • twitter
  • linkedin
  • pinterest
  • instagram
government-plans-to-build-sarkari-whatsapp-for-official-communication-the-social-digital

सरकारी कर्मचारियों के लिए WhatsApp की तर्ज़ पर नया चैट ऐप लॉन्च करेगी भारत सरकार

  • by Team TSD
  • June 28, 2019

WhatsApp को लेकर अक्सर ही भारत सरकार के बीच संदेह का भाव देखा गया है। दरसल देशभर में सबसे अधिक उपयोग होने वाली इस चैट ऐप का डेटा सेंटर आज भी देश में मौजूद नहीं है। और देश का डेटा बाहर जाने से अक्सर ही संदेह बना रहता है। और खासकर बात सरकारी डेटा की हो, तो सुरक्षा के प्रति सजगता अपने आप बढ़ जाती है। 

और शायद यही वजह है कि अब भारत सरकार सरकारी कर्मचारियों के लिए WhatsApp की ही तर्ज़ पर एक नई चैट ऐप पेश करने का मन बना रही है। दरसल भारत सरकार बाहरी प्रौद्योगिकी कंपनियों पर निर्भरता से जुड़ी असुरक्षा का हवाला देते हुए सरकारी एजेंसियों के बीच सुरक्षित संचार की सुविधा के लिए यह कदम उठाने पर विचार कर रही है।

सुरक्षा चिंताओं को लेकर व्हाट्सएप द्वारा बैकडोर देने से इनकार किए जाने के बाद, यह कदम सरकारी एजेंसियों और कर्मचारियों के बीच आधिकारिक संचार को विदेशी संस्थाओं से सुरक्षित करना इस कदम के पीछे का मुख्य कारण बताया जा रहा है।

हम बता दें कि इस पर विचार तब शुरू हुआ जब भारत सरकार द्वारा व्हाट्सएप (WhatsApp) पर एक डिजिटल फिंगरप्रिंट के माध्यम से प्लेटफॉर्म के भीतर साझा किए गए संदेशों की ट्रेसबिलिटी की अनुमति माँगी गई। लेकिन WhatsApp ने इस पर इंकार कर दिया।

द इकोनॉमिक्स टाइम्स के अनुसार, सरकार चाहती है कि विदेशी बिचौलियों को हटाकर स्वदेशी रूप से विकसित नेटवर्कों पर एक सुरक्षित संचार चैनल स्थापित किया जाए। और सरकारी अधिकारी भारत में डेटा स्थानीयकरण के प्रयासों का विरोध करने वाली अमेरिकी कंपनियों के उत्पादों जैसे व्हाट्सएप या जीमेल जैसे प्लेटफार्मों का उपयोग करना बंद कर दें। 

एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी द्वारा दिए गये बयान में उन्होंने बताया

“कुछ समय बाद रणनीतिक चर्चा और सुरक्षा मसलों के चलते हजूम ईमेल, मैसेजिंग इत्यादि के लिए कम से कम बाहरी कंपनियों पर निर्भर होना चाहते हैं। इसके चलते हमारे पास सरकारी व्हाट्सएप स्वरूप की कोई सुविधा होनी चाहिए।”

खैर अब देखना यह है की उपयोग के लिहाज़ से Facebook के स्वामित्व वाले WhatsApp के लिए भारत सबसे बड़ा उपभोगता बाज़ार हैं। और ऐसे में देश की सरकार द्वारा किसी और सामान सुविधा वाली ऐप को बढ़ावा देना, WhatsApp के लिए ख़तरे की घंटी जरुर साबित हो सकती है।    

हालाँकि आज ही प्राप्त नई रिपोर्ट्स के अनुसार WhatsApp अपनी पेमेंट सुविधाओं को देश में शुरू करने के लिए भारत में भी अपना डाटा सेंटर स्थापति करने पर विचार कर रहा है

अब देखना यह है कि क्या WhatsApp का यह कदम सरकार के लिए इस फैसले को लेकर पुर्नार्विचार का दरवाजा खोलेगा या नहीं?

Facebook Comments
Team TSD

A hard-working team, full of creativity, innovation, and knowledge of digital media. | You can reach us at thesocialdigital@gmail.com
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram
Don`t copy text!