IIT खड़गपुर के छात्रों ने बनाया घर में चार्ज हो सकने वाला ‘इलेक्ट्रिक वाहन’

  • by Staff@ TSD Network
  • September 16, 2019
iit-kgp-students-have-built-a-home-chargeable-electric-three-wheeler

देश में Electric Vehicle का बाज़ार आगामी वर्षों में काफी तेजी से बढ़ने वाला है, इस बात में शायद ही कोई शक हो। लेकिन ऐसे में जरूरी है कि इस बाज़ार के लिए देश के अन्दर ही निर्माण कार्यों को बल दिया जाए।

और अब इसी दिशा में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर (IIT KGP) के छात्रों और मैकेनिकल इंजीनियरिंग के प्रोफेसर विक्रांत राचेरला ने शहर परिवहन के लिए देशला नामक एक इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर बनाया है।

इसकी खास बात यह है कि इस वाहन को घर पर ही चार्ज किया जा सकेगा और इसकी अधिकतम गति 50 किमी/घंटा तक होगी।

राचेरला ने बताया,

“वर्तमान में बाजार में तीन-पहिया वाहन अन्य वाहनों के विपरीत, वाहन खराब सड़कों पर कहीं अधिक स्थिर और झटका-मुक्त होतें है।”

“यह एक स्टीयरिंग व्हील और High Mechanical Advantage के साथ Gear Mechanism पर काम करता है। वाहन अधिक प्रभावी ब्रेकिंग के लिए Mechanical ब्रेक के बजाय हाइड्रोलिक ब्रेक का उपयोग करता है।”

इसके साथ ही इस वाहन के दो वेरिएंट का उत्पादन करने की योजना बनायीं जा रही है। पहला तीन सीटों के साथ और दूसरा छह सीटों की क्षमता वाला।

इसके साथ ही आईआईटी खड़गपुर ने कथित तौर पर मिंट को भेजे गए एक ईमेल में कहा,

“एक शक्तिशाली मोटर के साथ, एक लिथियम आयन बैटरी, जो कि सात साल तक चल सकती है, उच्च भार वहन क्षमता, मजबूत फ्रेम और गतिशीलता के मामले में यह बेहतर विकल्प है। यह न केवल पर्यावरण के लिहाज़ से बेहतर है बल्कि सुरक्षा, विश्वसनीयता, प्रदर्शन और आराम के मोर्चे पर भी पूरी तरह से खरा उतरता है।”

प्रोफेसर राचरेला और छात्रों का समूह अब अपने इस प्रोजेक्ट के लिए करीब 3 करोड़ रूपये तक के निवेश हासिल करने की योजना बना रहिएँ हैं।

इस वाहन केउत्पादन को शुरू करने और आवश्यक औपचारिक ऑटोमोटिव रिसर्च एसोसिएशन ऑफ इंडिया से प्रमाणन प्राप्त करने के लिए टीम को पहले ही स्टार्टअप के रूप में पंजीकृत किया जा चुका है।

Facebook Comments
Staff@ TSD Network

Our hard-working staff writing team | You can reach us at 'contact@tsdnetwork.com'
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram