कोरोना वायरस: प्रधानमंत्री मोदी ने बनाई ‘इकॉनोमिक टास्क फ़ोर्स’; निर्मला सीतारमण करेगीं नेतृत्व

  • by Staff@ TSD Network
  • March 20, 2020
pm-modi-usispf-speech-navigating-new-challenge-india-us-summit

COVID 19 (कोरोना वायरस) ने न सिर्फ लोगों की जिंदगियों का बुरा हाल किया है, बल्कि इसके साथ ही साथ इस महामारी के प्रकोप के चलते विश्व भर के लगभग सभी प्रमुख देशों की अर्थव्यवस्था भी चरमरा सी गयी है।

इस देशों की लिस्ट में भारत का भी नाम शुमार है। और भारत सरकार ने भी इस बात का एहसास करते हुए अब इससे गंभीरता से निपटने का मन बनाया है।

इस दिशा में अब भारत की आर्थिक स्थिति को इस महामारी के प्रभाव से बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 मार्च को अपने पहले राष्ट्रव्यापी संबोधन में एक बड़ा ऐलान करते हुए ‘इकॉनोमिक टास्क फ़ोर्स’ का गठन किया है। बता दें  वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण इस टास्क फोर्स का नेतृत्व करेंगी और यह टास्क फोर्स सुनिश्चित करेगी कि सरकार द्वारा लिए गए निर्णयों को प्रभावी ढंग से लागू किया जा रहा है या नहीं? साथ ही साथ यह टास्क फ़ोर्स अर्थव्यवस्था को आवश्यक क़दमों और दिशानिर्देशों के लिए उद्योग लीडर्स से भी लगातार संपर्क में रहेगी।

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में भी इसका जिक्र करते हुए कहा;

“इस टास्क फोर्स के पास उद्योग क्षेत्र के विशेषज्ञों और हितधारकों की बात सुनना व अर्थव्यवस्था को इस महामारी से बचाने का जिम्मा होगा, जिसके लिए हर जरूरी कदम उठाएगी।”

इस बीच प्रधानमंत्री मोदी ने कारोबारी जगत से अपने कर्मचारियों के हितों का पूरा ध्यान रखने का आग्रह किया। उन्होंने यात्रा और अन्य प्रतिबंधों के कारण काम नहीं कर पा रहे कर्मचारियों की सैलरी न काटने का भी अनुरोध किया।

इस बीच खबर यह भी है टास्क फ़ोर्स का नेतृत्व कर रहीं निर्मला सीतारमण जल्द ही विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी, MSME मंत्री नितिन गडकरी, पशुपालन मंत्री गिरिराज सिंह और पर्यटन मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल के साथ मौजूदा आर्थिक संकट का आकलन करने के लिए बैठक कर सकतीं हैं।

आपको बता दें विशेषज्ञों के अनुसार मौजूदा हालातों में सबसे अधिक विमान उद्योग और होटल जगत प्रभावित हुआ है। कोरोनो वायरस के प्रकोप के चलते जहाँ एक ओर लोगों ने यात्रा करना कम कर दिया है वहीँ होटल इंडस्ट्री भी इससे सीधे तौर पर प्रभावित हुई है।

कई रिपोर्ट्स के अनुसार अकेले इन दो क्षेत्रों में ही लगभग 8,500 करोड़ रुपये तक का राजस्व प्रभावित हुआ है।

इसके साथ ही मह्मारी से बचाव के उपयोग के तहत प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार, 22 मार्च, 2020 को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक ‘जनता कर्फ्यू’ लगाने का भी ऐलान किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों से आग्रह किया किया कि 22 मार्च को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक कोई व्‍यक्ति घर से बाहर न निकले और जनता खुद से ही कर्फ्यू जैसे हालात बनाने में मदद करे।

साथ ही मोदी जी ने यह भी अनुरोध किया कि 22 मार्च को ठीक 5 बजे हम अपने घर के दरवाजे पर खड़े होकर 5 मिनट तक ऐसे लोगों का आभार व्यक्त करें जो कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं, जैसे डॉक्टर, सरकारी कर्मचारी इत्यादि और उनके सम्मान में थालियाँ व तालियाँ बजाएं।

अब तक भारत में COVID-19 के कुल मामलों का आंकड़ा 190 के करीब पहुँच गया है और स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के आंकड़ो के अनुसार दिल्ली, कर्नाटक, पंजाब और महाराष्ट्र में अब तक इसके चलते कुल चार मौतें हो चुकीं हैं।

Facebook Comments
Staff@ TSD Network

Our hard-working staff writing team | You can reach us at 'contact@tsdnetwork.com'
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram