सरकारी ज़मीन पर पेड़ लगाने गई ‘महिला अधिकारी’ पर विधायक के भाई ने पुलिस की मौजूदगी में किया हमला

  • by Staff@ TSD Network
  • July 1, 2019
mod-attacked-lady-officer

कल तेलंगाना में वृक्षारोपण अभियान की तैयारी कर रही एक महिला वन अधिकारी पर सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति पार्टी के नेता, उनके अनुयायियों और कुछ स्थानीय ग्रामीणों द्वारा हमला किया गया। 

इस हिंसक घटना में वह महिला वन अधिकारी बुरी तरह ज़ख्मी हो गईं। इससे भी हैरान करने वाली बात यह रही कि इस वारदात के दौरान पुलिस भी वहां मौजूद रही।

हमले में घायल महिला अधिकारी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस दुखद विडियो में वन रेंज अधिकारी सी अनीता एक ट्रैक्टर पर खड़ी नज़र आ रहीं हैं, जहाँ उन पर हिंसक भीड़ लकड़ी के डंडों से हमला करती साफ़ दिखाई दे रही है।

इस  भीड़ ने अपने हमले को तब भी जारी रखा जब पुलिस अधिकारी इन लोगों को पीछे धकेलने की कोशिश कर रहे थे। अनीता पर हमला करने वालों में स्थानीय जिला परिषद के वाइस चेयरपर्सन और और स्थानीय सिरपुर खंड विधायक कोनेरू कोनप्पा के भाई कोनेरू कृष्णा  शामिल रहे।

घायल महिला अधिकारी ने कहा कि पुलिस अधीक्षक और पुलिस उपाधीक्षक की मौजूदगी में भी विधायक ने उन्हें धमकी दी।

इस बीच आरोपी कृष्णा ने जिला परिषद के उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है और साथ ही दो पुलिस अधिकारियों को भी निलंबित कर दिया गया है। तेलंगाना राष्ट्र समिति के कार्यकारी अध्यक्ष और मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव के बेटे केटी रामाराव ने ट्विटर पर इस घटना की निंदा की।

उन्होंने कहा,

“मैं कोनेरु कृष्णा के अत्याचारपूर्ण व्यवहार की कड़ी निंदा करता हूं, जो एक वन अधिकारी पर हमला कर रहा है जो अपना काम कर रहीं थीं। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है और कोई भी व्यक्ति कानून के ऊपर नहीं है।”

इस बीच हम आपको बताना चाहेंगें कि महिला अधिकारी अनीता और उनकी टीम पर कोमाराम भीम आसिफाबाद जिले के सिरपुर-कागज़नगर में हमला किया गया था। यह हमला तब हुआ जब वे कोमाराम भीम आसिफ़ाबाद जिले के सिरपुर-काग़ज़नगर में 20 हेक्टेयर की वन भूमि में वृक्षारोपण अभियान के लिए अपनी टीम के साथ पहुँची।

यह वृक्षारोपण अभियान, वनीकरण के उद्देश्य से किया जा रहा था, जो राज्य सरकार की कालेश्वरम सिंचाई परियोजना का हिस्सा है जिसे मुख्यमंत्री केसीआर अपने “दूसरे सबसे बड़े सपने” के रूप में बताते हैं।

स्थानीय ग्रामीण कथित तौर पर उस जमीन पर पेड़ नहीं लगाने देना चाहते थे, क्यूँकि वहां पर वे अवैध रूप से खेती कर रहे थे। 

इस बीच महिला अधिकारी पर विधायक के भाई द्वारा किया गया हमला काफ़ी तेजी से सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। और हर कोई आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग करता नज़र आ रहा है। 

Facebook Comments
Staff@ TSD Network

Our hard-working staff writing team | You can reach us at 'contact@tsdnetwork.com'
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram