‘अंत की ओर प्लास्टिक’ – हम सबको आईना दिखाने की एक और बेहतर कोशिश

  • by Staff@ TSD Network
  • February 23, 2020
single-use-plastic-prayagraj-awareness-by-nnas

कल यानि दिनांक 22 फरवरी 2020 को शाम 4:00 बजे संगम नोज प्रयागराज में नुक्कड़ नाट्य अभिनय संस्थान के कलाकारों ने गंगा में पॉलिथीन से होने वाले प्रदूषण एवं सिंगल यूज प्लास्टिक को केंद्र में रखकर कृष्ण कुमार मौर्य द्वारा लिखित और निर्देशित नुक्कड़ नाटक “अंत की ओर प्लास्टिक” का मंचन किया।

नुक्कड़ नाटक अंत की ओर प्लास्टिक के मंचन के द्वारा बताया गया की गंगा में जब श्रद्धालु स्नान करने आते हैं तो अपने घरों से जो पूजा सामग्री लाते हैं जैसे मूर्तियां, पॉलिथीन में फूल माला इत्यादि जब गंगा में प्रवाहित करते हैं तो गंगा में रहने वाले जीव जंतु पर उसका क्या असर पड़ता है और कैसे वह इसके चलते तड़प तड़प के मर तक जाते हैं।

कलाकारों की मुख्य कोशिश यह रही कि दर्शक समझते कि गंगा दर्शनीय स्थान हैं, गंगा में पॉलीथिन का प्रयोग ना करें। वहीँ नाटक के दूसरे दृश्य में दिखाया गया प्लास्टिक राक्षस का आतंक जिसमें प्लास्टिक राक्षस कह रहा है अभी नहीं चेते तो समूची मानव सभ्यता को समाप्त कर दूंगा मेरे साम्राज्य की बढ़ोतरी में आप सभी मानवों का ही हाथ है।

कलाकारों ने सिंगल यूज प्लास्टिक को केंद्र में रखकर दर्शकों को प्लास्टिक कम से कम उपयोग करने का शपथ भी दिलवाई और यह भी जानकारी दी कि डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स इस मुहिम को प्रयागराज शहर में शुरू कर रहा है। और साथ ही यह अभियान पूरे देश में भी चलता रहेगा।

मंचन के दौरान स्वर्ग संस्था के निर्देशक अनिल यादव कार्यक्रम संयोजक योगेंद्र पांडे हिमांशु त्रिपाठी आशुतोष नीरज पांडे आदि मौजूद रहे।

कलाकारों, जिन्होंने अपनी अभिनय क्षमता से दर्शकों को बांधे रखा उनमें प्रदीप, देवेंद्र राजभर, आनंद प्रकाश शर्मा, शिवेश, अरविंद, हेमलता, करीम, अभिषेक मिश्रा और संतोष कुमार गुप्ता के नाम शामिल थे।

Facebook Comments
Staff@ TSD Network

Our hard-working staff writing team | You can reach us at 'contact@tsdnetwork.com'
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram