January 26, 2020
  • facebook
  • twitter
  • linkedin
  • pinterest
  • instagram
swiggy-talks-raise-funding-500-million-the-social-digital

Swiggy को जल्द एक बार फ़िर मिल सकती है ‘₹3000 करोड़’ से अधिक की फंडिंग

  • by Ashutosh Singh
  • July 17, 2019

ऑनलाइन फूड ऑर्डर और डिलीवरी क्षेत्र भारत में तेजी से अपना विस्तार करते नज़र आ रहा है। और ऐसे में निवेशकों द्वारा ऐसे इन स्टार्टअप में भरोसा जताना भी जायज है। 

इसी श्रृंखला में अब ऑनलाइन फूड ऑर्डर और डिलीवरी प्रमुख Swiggy लगभग 3000 करोड़ रूपये ($500 मिलियन) का ताज़ा निवेश हासिल करने के करीब नज़र आ रहा है। इस निवेश के जरिये Swiggy का मुख्य मकसद इस क्षेत्र में अपने प्रमुख प्रतिद्वंदी Zomato को भारत के शहरों में कड़ी टक्कर देने का है।   

इसके साथ ही इस निवेश के साथ Swiggy अपने सेवा विस्तार संबंधी योजनाओं जैसे ग्रोसरी डिलीवरी इत्यादि को भी तेज़ी से आगे बढ़ाने का प्रयास करता नज़र आएगा।

दरसल इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, इस 500 मिलियन डॉलर के बड़े निवेश में मुख्य भूमिका दक्षिण कोरियाई-आधारित निवेश कंपनी, Korea Investment Partners निभा सकती है। साथ ही इस निवेशक के अलावा, Mirae Asset Management, STIC Investments और Neoplux जैसे निवेशक भी इस निवेश दौर में भागीदारी कर सकतें हैं। 

swiggy-talks-raise-funding-500-million-the-social-digital

लेकिन इस निवेश से Swiggy को एक और बड़ा फायदा होगा और वह यह कि Swiggy का मूल्यांकन 3.3 बिलियन डॉलर से बढ़कर लगभग 4 बिलियन डॉलर तक का हो जाएगा।

इस बीच हम आपको बता दें कि Swiggy में इस वक़्त दक्षिण अफ्रीकी कंपनी, Naspers 36% इक्विटी के साथ सबसे बड़ी हिस्सेदार है।  इसके बाद Tencent प्रमुख निवेशकों में शुमार है।

इस बीह्क अनुमान यह भी है कि इस निवेश के बाद Swiggy भारत के अन्य शहरों तक भी अपनी सेवाओं का बड़े पैमाने में विस्तार करता नज़र आ सकता है

इस बीच हम आपको बता दें कि एक अनुमान के मुताबिक Swiggy और Zomato अपनी सेवाओं के विस्तार और मार्केटिंग इत्यादि पर हर महीनें लगभग $40 से $50 मिलियन का खर्च करते हैं।

Facebook Comments
Avatar

Serial Digital Entrepreneur | Digital Marketing Consultant | E.V. Consultant | Contact at 'amicableashutosh@gmail.com'
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Like & Follow us on Facebook







Don`t copy text!