‘Wheeled Wings’ – स्केटबोर्ड के पहियों ने दी गाँव को बदलाव की रफ़्तार

  • by Staff@ TSD Network
  • February 18, 2020
wheeled-wings-a-village-that-explores-skateboarding-as-a-means-for-change

एक ‘कला’ अगर सही ढंग से इस्तेमाल की जाए तो कई ज़िन्दगियों को बदलने की ताकत रखती है। ये बात सुनने में जितनी बड़ी लगती है, उदाहरणों के रूप में सामने आने पर उतनी ही आसान और दिलचस्प भी।

तो आइये आपको ले चलते हैं ऐसे ही एक उदाहरण वाली दुनिया में। ये दुनिया बसती है मध्य प्रदेश के एक गाँव, जनवार (Janwaar) में और इसको फिल्माया है दिव्य भगिया और आयुष दुधिया ने।

इस शोर्ट फ़िल्म में जनवार के बदलाव को कैद किया गया है। वह बदलाव जिसकी शुरुआत एक जर्मन महिला ने गाँव के बच्चों को स्केटबोर्डिंग (Skateboarding) से रूबरू करवाते हुए की। और देखते ही देखते स्केटबोर्ड के घूमते पहियों ने गाँव को नए बदलाव के लिए  रफ़्तार प्रदान की।

यकींन करना शायद मुश्किल हो, लेकिन इन स्केटबोर्ड के पहियों ने गाँव में पुश्तों से जमी जातिवाद की धुल को भी उड़ा दिया। Ulrike Reinhard नाम की एक जर्मन महिला ने आज से करीब 3 साल पहले इस गाँव में स्केट-बोर्डिंग पार्क बनाकर मानों इसकी नई तक़दीर ही लिख दी।

दिलचस्प ये नहीं की इस पार्क ने गाँव के बच्चों को स्केटबोर्डिंग सिखाई, खास यह है कि स्केटबोर्डिंग सीखाते सीखते कब Ulrike Reinhard ने इन गाँव वालों के बीच से इन्हीं बच्चों के सहारे जातिवाद जैसे अभिशाप को खत्म कर दिया, इसका अंदाज़ा खुद गाँव वालों को भी नहीं हो सका।

एक गाँव जो हर मायनों में कभी देश की मुख्य धारा के साथ पिछड़ता नज़र आता था, वो आज देश के सबसे बड़े स्केट-बोर्डिंग पार्क का ही नहीं बल्कि एक अनोखे और सफ़ल बदलाव का भी गवाह बन सका है। इस शोर्ट फ़िल्म में आपको बदलाव का यही सफ़र को देखने को मिलेगा, लेकिन जितनी दिलचस्प ये कहानी है, उतना ही दिलचस्प इसको दिखाने का तरीका भी, आप खुद ही देखिये;

शुक्रिया Ulrike Reinhard, इस बदलाव को जन्म देने के लिए और आयुष दुधिया व दिव्य भगिया आपका भी शुक्रिया इस खुबसूरत हक़ीकत से रूबरू करवाने के लिए! 


The Social Digital अपनी खुबसूरत Art & Artist की डिजिटल लाइब्रेरी में ऐसे ही कुछ कलाकारों और उनकी कलाओं को Feature करते हुए आप तक पहुँचाने की कोशिश करता है। इस Feature के जरिये हम इन कलाकारों के जुनून और इनके हुनर को सलाम करते हुए इन्हें एक छोटा-सा तोहफ़ा देने की कोशिश करतें हैं।

तो अगर आपके आसपास भी कोई ऐसा हुनर है, तो हमें thesocialdigital@gmail.com पर जरुर बताएं! और हमारी पूरी कोशिश होगी की हम हर शानदार हुनर को अपने प्लेटफ़ॉर्म के जरिये इस तरह एक छोटा सा खुबसूरत सरप्राइज दे सकें!

Support Us!

अपने प्लेटफार्म पर हम किसी भी तरह का Paid Promotion शामिल नहीं करते क्योंकि हमारा मानना है कि Art & Artists जैसी कला से जुड़ी Categories में हमारें आसपास मौजूद बेहतरीन हुनर को पूरी ईमानदारी से सम्मान देना चाहिए और इसलिए हम असल मायनों में अच्छे कलाकारों और उनकी कलाओं को ही आप सबकें सामनें लानें की कोशिश करते हैं।

ऐसे में हम आप सबके साथ से ही अपनें प्लेटफार्म को बरक़रार रखना चाहतें हैं, इसी मकसद से हमनें यह Support Us! मॉडल चुना है. तो अगर आपको हमारा Content पसंद हैं, और आप चाहतें हैं कि हम आगे भी अपना संचालन कर पाएं तो अपनी इच्छानुसार आप हमें ₹50 से लेकर ₹2,500 तक का आर्थिक सहयोग दे सकतें हैं।

 

Facebook Comments
Staff@ TSD Network

Our hard-working staff writing team | You can reach us at 'contact@tsdnetwork.com'
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram