‘Winter Is Coming’ & Is Delhi ready for it? – TSD Report

  • by Staff@ TSD Network
  • September 14, 2019
pollution-down-delhi-cm-winter-is-coming

Winter Is Coming; सर्दियों का मौसम आ रहा है! यह बात आमतौर पर किसी से कहेंगें, तो वह आपको अजीब शक्ल के साथ घूर कर आगे बढ़ जाएगा, थोड़ा गुस्सा रहा, तो हो सकता है आपको प्यार भरे दो शब्द भी बोलता चले।

लेकिन अगर किसी दिल्ली वाले से ये कहेंगें तो हो सकता है भले प्यार भरे दो शब्द वो भी बोले, लेकिन मन ही मन वह सहम भी जाएगा। किसी दिल्ली वाले दोस्त से पूछेंगे की भला इस आर्टिकल में ऐसा क्यों लिखा है, तो हो सकता है वह आपको यही जवाब दे;

“ठंड से डर नहीं लगता साहब! पोल्यूशन से लगता है”

जी हाँ! वही ‘पोल्यूशन’ जिसका यूपी की तरफ बढ़ने पर नाम ‘प्रदूषण’ हो जाता है भाषा पर मत जाइए, ख़तरनाक दोनों हैं और वैसे भी आज हिंदी-दिवस है। लेकिन इस बार लगता है दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार ने हवा के रुख को समझते हुए, तैयारी भी जमकर की है।

असल में सर्दियाँ के आते ही जब दिल्ली वालों का सोशल मीडिया उत्तरी भारतीय राज्यों में फसल अवशेषों की तस्वीरों से गुलजार सा हो जाता है, तो उसे उनका हॉलिडे मूड न समझें दरसल वह एयर पोल्यूशन (वायु प्रदूषण) को लेकर उनका डर/दर्द भी हो सकता है। हालाँकि फ़िर इन्हीं में से अधिकतर लोग दिवाली में हजारों-लाखों के पटाखें जला, प्रदूषण या पोल्यूशन को मुँह चिढाते नज़र भी आ जाते हैं। जी हाँ! दिल्ली में आपका स्वागत है!    

लेकिन दिल्ली सरकार के आंकड़ों और प्रयासों की मानें तो इस बार आपके दिल्ली वाले दोस्तों के सोशल मीडिया में इस डर/दर्द के बादल छटते नज़र आ सकतें हैं। 

बीते शुक्रवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि शहर में प्रदूषण का स्तर 25 फीसदी तक कम हो गया है। उन्होंने दावा किया कि दिल्ली एकमात्र शहर है जहां प्रदूषण बढ़ने के बजाय कम हो रहा है।

pollution-down-delhi-cm-arvind-kejriwal

source: PTI

हालाँकि उन्होंने यह भी कहा कि फसलों को जलाने के कारण शहर को स्मॉग के लिए तैयार रहने की जरूरत है। जो की सही भी है, अब ‘आप’ पड़ोसी राज्यों की सरकारों से अनुरोध ही कर सकतें हैं, और ख़ासकर तब जब वह आपके विरोधी हों। लेकिन इंसानियत का विरोधी तो कोई नहीं हो सकता, और इसलिए अन्य राज्यों के लोगों और सरकारों को भी इस दिशा में सार्थक कदम उठाने चाहिए।

खास यह रहा की इस बार दिल्ली को सर्दियों में पोल्यूशन से निजात दिलाने के मकसद से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शहर में हवा की गुणवत्ता में सुधार हेतु सात सूत्री योजना की भी घोषणा की।

इस योजना में निम्नलिखित चरण शामिल हैं:

1. ऑड ईवन

2. पोल्यूशन मास्क

3. सामुदायिक दिवाली लेजर शो

4. पर्यावरण मार्शल

5. हॉटस्पॉट नियंत्रण

6. धूल नियंत्रण

7. ट्री चैलेंज

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यह भी कहा कि पराली का मौसम खत्म होने के बाद, इस विंटर एक्शन प्लान को लागू किया जाएगा। ऑड ईवन और सामुदायिक दिवाली समारोह के अलावा, अन्य सभी उपाय पूरे सर्दियों तक जारी रहेंगे।

बहरहाल! मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की बातों और योजनाओं में काफी हद तक व्यावहारिकता नज़र आती है, न कि किसी राजनेता की वह हवाई भाषा जिसमें वह अपनी ही जनता को ठगने का प्रयास करे

खैर! यह मुद्दा भी राजनैतिक न होते हुए, एक जनहित का मुद्दा है, और इसलिए हम आप सबसे, भले आप दिल्ली के हों या न हों, यह अपील करना चाहेंगें की वायु प्रदूषण को रोकने के हर संभव प्रयासों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लें ताकि दिल्ली ही क्या पूरा देश, पूरी दुनिया हमेशा स्वच्छ हवा में साँस लेती रहे

“थोड़ा आप हाथ बढाएं, थोड़ा हम बढ़ाते हैं,

चलिए इस प्रदूषण को जड़ से मिटाते हैं”

 

Facebook Comments
Staff@ TSD Network

Our hard-working staff writing team | You can reach us at 'contact@tsdnetwork.com'
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram